Bulletins Of India

रिलायंस फाउंडेशन का नया सामाजिक कदम

संकलन : Vyas Sachin | प्रकाशन तिथि : 30-04-2021 18:27 | गुजरात समाचारराजकोट समाचार

 

कोरोना का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा, आए दिन कई जानें इसकी चपेट में आने से जा रही हैं। देशभर में ऐसे हालत हो चुके हैं कि अब अस्पतालों में  बेेड और ऑक्सीजन की कमी हो गई है। ऐसे में जहां लाखों लोग इस बीमारी से जूझ रहे हैं, वहीं देश में कुछ लोग ऐसे भी हैं जो जरूरतमंदों की ओर अपना मदद का हाथ बढ़ा रहे हैं। उन्हीं मदद के हाथों में से एक बड़ा नाम रिलायंस फाउंडेशन का है, जो ऑक्सीजन और हॉस्पिटल में बेड की कमी को देखते हुए जामनगर में 1000 बेड्स की क्षमता वाला कोरोना हॉस्पिटल का निर्माण करने जा रहा है। जहां नागरिकों को सभी जरूरी मेडिकल सुविधाएं निशुल्क प्राप्त होंगी।

2 चरणों में होगा कोविड सेंटर्स का निर्माण 

महामारी के प्रकोप को देखते हुए, 400 बेड वाले कोविड केयर सेंटर की सुविधा एक हफ्ते के अंदर जामनगर के गवर्नमेंट डेंटल कॉलेज एंड हॉस्पिटल में शुरू हो जाएगी। इसके बाद, आने वाले दो हफ्तों में जामनगर के किसी दूसरे स्थान पर 600 बेड वाले कोविड केयर सेंटर की सुविधा कोरोना मरीजों के लिए शुरू कर दी जाएगी।

मेडिकल सेवाओं में होगा इजाफा

 महामारी से लड़ने के लिए रिलायंस द्वारा बनाए गए कोविड सेंटर्स में जरूरत के अनुसार मैनपावर, मेडिकल सपोर्ट, जरूरी मेडिकल उपकरण और डिस्पोजेबल सामान उपलब्ध होंगे। वहीं राज्य सरकार अपनी ओर से समय-समय पर ये भी सुनिश्चित करती रहेगी कि अस्पतालों में डॉक्टर्स और नर्सिंग स्टाफ मौजूद रहें। रिलायंस की इस पहल और नए कोविड सेंटर्स का लाभ जामनगर, खंभालिया, द्वारका, पोरबंदर और सौराष्ट्र के अन्य क्षेत्रों में रहने वाले लोग उठा पाएंगे।

हेल्थ केयर फैसिलिटीज में इजाफा करना है जरूरी 

रिलायंस फाउंडेशन की फाउंडर और चेयरपर्सन नीता अंबानी ने अतिरिक्त हेल्थ केयर फैसिलिटीज की जरूरत पर जोर देते हुए कहा, 'भारत कोरोना वायरस की दूसरी लहर से जूझ रहा है। हम कोरोना के खिलाफ इस लड़ाई में देश के साथ हैं और हर संभव मदद करने के लिए तैयार हैं। हेल्थ केयर फैसिलिटी को बढ़ाना इस समय की सबसे बड़ी मांग है। इसी जरूरत को देखते हुए रिलायंस फाउंडेशन जामनगर में कोरोना मरीजों के लिए ऑक्सीजन युक्त 1000 बेड वाला एक मुफ्त हॉस्पिटल 

स्थापित किया जा रहा है । पहले चरण में 400 बेड और उसके बाद दूसरे चरण में 600 बेड वाला हॉस्पिटल मरीजों के लिए खोला जाएगा। रिलायंस फाउंडेशन की एक जोर नयी पहल है। जिससे इस संकट की पड़ी में लोगों की मदद की जा सके। हमें आशा है कि हमारी कोशिश महामारी के खिलाफ इस लड़ाई में देश का सहयोग करेगी। जिससे मिलकर हम ज्यादा से ज्यादा लोगों की जान बचा पाएंगे।

'रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के ग्रुप प्रेसिडेंट धनराज नाथवानी ने अपने विचारों को व्यक्त करते हुए कहा, हमारे माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस महामारी के दौरान भारतवासियों की सुरक्षा के लिए यथा संभव कोशिश कर रहे हैं। वहीं गुजरात के मुख्यमंत्री विजयभाई रूपानी भी अपने राज्य के लोगों के लिए इस कठिन समय में स्वास्थ्य सुविधाओं को उपलब्ध करवाने में अपना निरंतर प्रयास कर रहे हैं। रिलायंस ग्रुप के सीएमडी मुकेश अंबानी ने भी गुजरात में हॉस्पिटल सुविधा को बढ़ाने और कोविड-प्रभावित मरीजों की मदद करने के लिए एक कदम और बढ़ाया है। रिलायंस इडस्ट्रीज के चेयरमैन की अगुवाई में रिलायंस टीम कम से कम समय में दो नए कोविड फैसिलिटी रोटर स्थापित करने के लिए काम कर रही है।

किसी भी बड़े संकट के दौरान देश एकजुट होकर काम करता है। वहीं रिलायंस फाउंडेशन भी संकट की हर घड़ी में देशवासियों का सहयोग करने के लिए सामने आती है। हर बार की तरह इस बार भी रिलायंस ने गुजरात सहित देश के दूसरे राज्यों के लोगों की मदद करने के लिए अपना हाथ आगे बढ़ाया है। कोरोना से लड़ने और लोगों की जान बचाने के लिए रिलायंस, गुजरात सहित कुछ अन्य राज्यों को ऑक्सीजन की आपूर्ति भी प्रदान कर रहा है। आपको बता दें कि इससे पहले भी रिलायंस ग्रुप मुंबई शहर में कोविड केयर सेंटर्स में फ्री मेडिकल सेवाएं प्रदान कर रहा है। जहां 875 कोविड बेड की सुविधा रिलायंस फाउंडेशन हॉस्पिटल के माध्यम से दी जा रही है। आने वाले कुछ समय में रिलायंस कोविड केयर द्वारा जामनगर और मुंबई के बीच 1,875 बेड्स की स्थापना की जाएगी। जो मरीजों को नयी जिंदगी देने में कारगर साबित हो सकता है।

आपको बता दें कि इससे पहले भी रिलायंस ग्रुप मुंबई शहर में कोविड केयर सेंटर्स में फ्री मेडिकल सेवाएं प्रदान कर रहा है। जहां 875 कोविड बेड की सुविधा रिलायंस फाउंडेशन हॉस्पिटल के माध्यम से दी जा रही है। आने वाले कुछ समय में रिलायंस कोविड केयर द्वारा जामनगर और मुंबई के बीच 1,875 बेड्स की स्थापना की जाएगी। जो मरीजों को नयी जिंदगी देने में कारगर साबित हो सकता है।

बुलेटिन्स ऑफ इंडिया पर अन्य अद्यतन