Bulletins Of India

फाइव रहार होटल में बैठकर रेमडेसिविर इंजेक्शन के नाम पर 100 रुपए वाले 5000 टेट्रासाइकल इंजेक्शन बेच डाले

संकलन : Vyas Sachin | प्रकाशन तिथि : 30-04-2021 15:52 | गुजरात समाचारअहमदाबाद समाचार

 

मरीजों की जान का सौदा :

कोरोना महामारी में जहां लोग तड़प-तड़पकर मर रहे हैं। वहीं, कुछ लोग ऐसे भी है, जो चंद पैसों के लिए इंसानों के जीवन का सौदा करने से बाज नहीं आ रहे। अहमदाबाद क्राइम ब्रांच ने ऐसे ही 7 नरपिशाचो को अरेस्ट किया है, जो फाइव स्टार होटल में बैठकर रेमडेसिविर इंजेक्शन के नाम पर 100 रुपए की कीमत के 5000 टेट्रासाइकल इंजेक्शन हजारों रुपयों में बेच चुके हैं।

होटल में ही शीशी पर चिपकाए नकली स्टीकर

 क्राइम ब्रांच से मिली जानकारी के अनुसार छोटे-मोटे व्यापार करने वाले हितेश, दिशात विवेक, नितेश जोशी, शक्ति सिंह, सनप्रीत और राज वोरा अहमदाबाद की फाइल स्टार होटल हयात में बैठकर इस गोरखधंधे को अंजाम दे रहे थे। टेट्रासाइकल इंजेक्शन से भरे बक्से के साथ इनके पास से रायपुर की एक कंपनी के नाम से नकली स्टीकर भी थे, जो टेट्रासाइकल की बोतल पर चिपका कर उसे बेच रहे थे।

4 हजार से लेकर 10 हजार रुपए तक में बेचे 

आरोपियों ने बताया कि सभी अपने परिचितों और दोस्तों के जरिए किसी और से इंजेक्शन दिलाने के नाम पर संपर्क में थे। अब तक ये अहमदाबाद, राजकोट, सूरत, वडोदरा, जामनगर, वापी जैसे शहरों में 4 हजार से लेकर 10 हजार रुपए तक में बेच चुके हैं।

इस तरह पहुंची क्राइम ब्रांच 

क्राइम ब्रांच को सूत्रों से जानकारी मिली थी कि होटल हयात में ठहरा हुआ सनप्रीत नाम का एक व्यक्ति जय ठाकुर को रेमडेसिविर इंजेक्शन बेचने वाला है। सूचना मिलते ही क्राइम ब्रांच की टीम ने जय ठाकुर से संपर्क किया और फिर आरोपियों को रंगे हाथों दबोचने की जाल बिछाया।

इस तरह टीम सनप्रीत और उसके बाद बाकी साथियों तक पहुंच गई। होटल के कमरे से ही बक्से भर टेट्रासाइकल इंजेक्शन और रेमडेसिविर इंजेक्शन के नकली स्टीकर जब्त किए हैं। क्राइम ब्रांच की टीम यह पता करने में लगी है कि स्टीकर कहां से मिले हैं।

बुलेटिन्स ऑफ इंडिया पर अन्य अद्यतन